kesar ki kheti kaise hoti hai,किसान केसर की खेती करके कमाए लाखों रुपये

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

kesar ki kheti kaise hoti hai,किसान केसर की खेती करके कमाए लाखों रुपये:- नमस्कार दोस्तों आप साभिका हमारे लेख मे स्वागत है हम आपके लिए हाररोज नई जानकारी लेके आते रहते है जिसमे हम आपके लिए खेती और किसान के लिए योजना की जानकारी देते है आज हम केसर  की खेती के बारे मे जानकारी देंगे जिसके अंदर हम आपको केसर की उन्नत किसमे उसका सही समय लागत और केसर की खेती के लिए उसकी पैदावार के बारेमे जानकारी देंगे तो इस लेख को ध्यान से पूरा पढे केसर जो अपनी खुशबू और गुणों से अलग ही पहचान रखता है  जिसके कारण उसकी बाजार मे दिन प्रति दिन मांग बढ़ते ही जा रही है इसकी बाजार मे ज्यादा कीमत के कारण इसे लाल सोना भी कहते है केसर का इस्तेमाल कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स बनाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, इसके अलावा यह अनेक खाने की चीजों में भी उपयोग होता है। केसर में मौजूद गुणकारी तत्व व्यक्ति की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकते हैं, जैसे कि यह दिल से जुड़ी बीमारियों की संभावना को कम कर सकता है।

केसर की खेती कैसे की जाती है

केसर की खेती यूरोप और एशियाई क्षेत्रों में प्रसारपूर्वक की जाती है, और इसमें ईरान और स्पेन जैसे देश विशेष रूप से मशहूर हैं, जो विश्वभर में केसर का 80 प्रतिशत उत्पादन करते हैं। केसर की खेती के लिए विशेष रूप से 1000 से 2500 मीटर की ऊँचाई पर समुद्र तल से ऊपर उगाया जाता है। इसे बर्फबारी क्षेत्रों में उत्तम माना जाता है, और इसकी खेती करने से किसान अच्छी कमाई कर सकते हैं।

केसर की खेती के लिए उपयुक्त मिट्टी 

केसर की खेती आमतौर पर बलुई दोमट और दोमट मिट्टी में की जाती है, लेकिन तकनीकी प्रगति और उचित देखभाल के साथ, शुष्क क्षेत्रों जैसे राजस्थान में भी इसकी खेती की जा सकती है। केसर की खेती के लिए जलभराव वाली जगह अधिक उपयुक्त नहीं होनी चाहिए, क्योंकि केसर के बीज पानी में सीधे मिलकर नष्ट हो जाते हैं। इसकी खेती के लिए भूमि का पीएच मान सामान्य होना चाहिए।

गेहू की खेती  करने का सही समय,Gehu ki kheti karne ka sahi samay

Paytm personal lona,पेटीएम से मिलेगा पर्सनल लोन आवेदन कैसे करे,paytm se loan lene ka number

जीरे की खेती कैसे करे,जीरे की खेती का सही समय,जीरे की दावा

केसर की खेती के लिए खेत तैयारी

केसर के बीजों को बोने या लगाए जाने से पहले, खेत को ध्यानपूर्वक जुताई की जाती है। इसके अलावा, मिट्टी को भुरभुरा बनाने के लिए आखिरी जुताई से पहले, प्रति हेक्टेयर के लिए 20 टन गोबर का खाद और साथ ही 90 किलोग्राम नाइट्रोजन, 60 किलोग्राम फास्फोरस, और पोटास डाला जाता है। इससे भूमि की उपजाऊ क्षमता में वृद्धि होगी, जिससे केसर की खेती में सुधार होगा।

केसर की उन्नत किसमे 

वर्तमान में केसर की दो प्रमुख किस्में हैं, जिन्हें कश्मीरी और अमेरिकी नामों से जाना जाता है। अमेरिकी केसर भारत में बड़ी मात्रा में उगाया जाता है।

कश्मीरी मोंगरा किस्म केसर

   इस केसर की किस्म को दुनिया में सबसे महंगा माना जाता है, और इसकी कीमत 3 लाख प्रति किलो से भी अधिक होती है। यह केसर किश्तवाड़ और पंपोर में जम्मू-कश्मीर में उगाया जाता है, और इसके पौधों की ऊचाई 20 से 25 सेंटीमीटर तक होती है। इसके फूलों का रंग बैंगनी, नीला, और सफेद होता है, जिसमें से केसर प्राप्त किया जाता है।

अमेरिकन किस्म का केसर

   इस केसर की किस्म अमेरिकी क्षेत्र के अलावा अन्य कई स्थानों पर उगाई जाती है और इसकी लागत कश्मीरी मोंगरा केसर से कम होती है। इसके पौधों को किसी विशेष जलवायु की आवश्यकता नहीं होती है, और यह शुष्क क्षेत्रों जैसे राजस्थान में भी उगाई जा रही है। इसके पौधे चार से पांच फीट तक ऊचे होते हैं और इसमें पीले फूल निकलते हैं, जिनमें केसर के रेशे होते हैं।

केसर की खेती के लिए उचीत  समय 

ऊँचे पहाड़ी क्षेत्रों में केसर की खेती जुलाई से अगस्त तक की जाती है, हालांकि मध्य जुलाई का समय इसकी खेती के लिए सबसे उचित माना जाता है। उसी के विपरीत, मैदानी इलाकों में इसकी खेती का उचित समय फरवरी से मार्च माना जाता है।

मटर की खेती कैसे करें,मटर की उन्नत किसमे,मटर की खेती में कौन सी खाद डालें

बंधन बैंक से मिलेगी लोन | बंधन बैंक पर्सनल लोन के लिए ऐसे अप्लाई करे

Pm kisan samman nidhi 2024

केसर के उपयोग और लाभ क्या है 

केसर को खीर, गुलाब जामुन, और दूध सहित विभिन्न मिठाइयों में उपयोग किया जाता है। इसके अलावा, कई मिठाइयों में इसका उपयोग रंग और खुशबू के लिए भी किया जाता है। यह औषधीय दवाओं में भी शामिल होता है। पेट संबंधित बीमारियों के इलाज में केसर बहुत फायदेमंद है, जैसे कि बदहजमी, पेट-दर्द, और पेट में मरोड़। केसर का सेवन सिर दर्द को दूर करने में भी मदद कर सकता है। अगर सिर दर्द हो, तो चंदन और केसर को मिलाकर इसे सिर पर लगाने से राहत मिलती है। इसके अलावा, महिलाओं की कई बीमारियों में इसका उपयोग औषधी के रूप में किया जा सकता है।

केसर की खेती से कमाई 

केसर का पैदावार होने के बाद, उसे ध्यानपूर्वक पैक करके आप इसे नजदीकी मंडी में अच्छे दामों में बेच सकते हैं। असली केसर की मांग सभी जगहों पर होती है, और आप अपने खेत से पैदा किए गए केसर को उच्च मूल्यों पर बेच सकते हैं। इसके अलावा, आप ऑनलाइन बाजारों में भी इसे बेच सकते हैं।

राजस्थान में केसर की खेती कहां होती है

हा आप राजस्थान मे भी खेती करके कमाई कर सकते हो लेकिन जिसके लिए आपको एक कमरे मे भी कर सकते हो जिसके अंदर आप को टेम्परेचटर मेंटेंन करके रखना होगा उसके बाद आप हेडरोफोनिक पद्धति का उपयोग कर के राजस्थान मे भी खेती कर सकते हो 

उतरप्रदेश मे केसर की खेती 

तकनीक की मदद से उत्तर प्रदेश के मैनपुरी में निवास करने वाली शुभा भटनागर ने एक हॉल में केसर उगाने में सफलता प्राप्त की है। शुभा भटनागर ने मजबूत इच्छाशक्ति के साथ यूपी के मैनपुरी जैसे शहर में, एरोफोनिक तकनीकी का उपयोग करके, बिना मिट्टी और पानी के साढ़े पांच सौ वर्ग फ़ीट के वातानुकूलित हॉल में केसर की खेती की शुरुआत की।

सारांश:-

हमने इस लेक के अंदर बताया है की आप केसर की खेती करके जैसे पैसे कमा सकते हो इसमे उन्नत किसमे सही समय के बारेमे जानकारी दी है तो इस लेख पसंद आए तो अपने दोस्तों को जरूर शेर करे और एसी जानकारी पाने के लिए हमारे whatsapp ग्रुप मे जरूर जुड़े 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

Leave a Comment

WhatsApp Group Button